Search
  • kuldeepanchal9

मोह

किसी से भी मोह के समाप्त होते ही उसका अस्तित्व ही समाप्त सा हो जाता है

चाहे

वो पैसा हो

कोई प्यार हो

कोई पद हो

कोई प्रतिष्ठा हो

कोई सम्पत्ति हो

कोई वस्तु हो

कोई इंसान हो

कोई रिश्ता हो

या अंत में अपना जीवन ही क्यों न हो


***डॉ पांचाल

27 views0 comments