Search
  • kuldeepanchal9

स्वयं को महत्ता

दूसरों को समझने में व दूसरे हमें पसंद करें इसी आशा में मधुर संबंध बनाने में वर्षो लग गए औऱ जीवन व्यतीत कर दिया


अब समय है कि कि हम अपने आप को पसंद करें व अपने आप को समझने का तत्पर प्रयास करें

जिससे बचा जीवन सफल हो सके

*** डॉ पाँचाल

13 views0 comments