Search
  • kuldeepanchal9

सुख और दुःख

सूर्य व् चंद्रमा प्रकृति प्रदत्त है रौशनी व् अँधेरे के प्रतीक भी माने जाते हैं सुख दुःख हमारे कर्मो के अनुसार होते हैं सुख व् रोशनी में हर कोई आपका साथ देने के लिये उतावला हो जायेगा जीवन में उस इन्सान की तलाश करिये जो दुःख में व् अँधेरे में आपका भरपूर साथ दे सके

*** डॉ पांचाल

61 views1 comment

Recent Posts

See All