Search
  • kuldeepanchal9

समय एवं स्वार्थ

जब एक मानव का किसी दूसरे मानव से

स्वार्थ कम हो जाता है

तो बात करने का तरीका बदल जाता है

इसके साथ -साथ अभिवादन, आदर, सत्कार,मॉन सम्मान के अर्थ भी बदल जाते हैं

वो इस बात से भी अनभिज्ञ हो जाता है समय कितना मूल्यवान होता है

*** डॉ पाँचाल

16 views0 comments