Search
  • kuldeepanchal9

समझदारी

यदि आप किसी को समझने मे असमर्थ हैं तो उसको गलत समझने का अनायास प्रयास भी न करें इंसान कोई गणित या विज्ञान विषय की तरह नहीं होता जिसको पढ़कर व समझकर आपको कोई परीक्षा देनी है यदि व्यक्तित्व समझ नहीं आता तो उससे किनारा करने मे सभी की भलाई निहित होती है

*** डॉ पांचाल

56 views0 comments