Search
  • kuldeepanchal9

झूले के साथ स्वप्न में उड़ान भरना

झूले पर बैठकर आसमानी पींगे लगाने का स्वप्न बड़ा ही मनमोहक होता समस्या तब होती है जब पींगे भर रहा मनुष्य स्वप्न में डूबकर जमीनी सत्यता से आँखे बंद कर लेता है ऐसे में उसे यह भान नहीं रहता कि झूले की जिस पींग के भरोसे वह बादलों की सैर की कल्पना में डूबा हुआ है उसकी दिशा वस्तुत यथार्थ की चट्टानों की ओर है और विरले ही ऐसे निकल पाते हैं जो इन चट्टानों से टकराकर चकनाचूर होने से स्वयं को बचा पाए या अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सकें |

*** डॉ पांचाल


#trendsetterdrpanchal#swinginthesky#dreamswithswing#skydreams#extraordinary

1 view0 comments