Search
  • kuldeepanchal9

क्रोध

Updated: Jun 11

विश्व में क्रोध एक ऐसा विचित्र अस्त्र है जो दोनों ओर या दोनों दिशाओं में चोट करता है

उस चोट की न कोई चिकित्सा होती न ही कोई चिकित्सक ठीक कर पाता है

कई बार ऐसा भी देखा गया है कि क्रोध रूपी अस्त्र का प्रयोग करने वाला स्वयं ही आहत होता है कभी कभी जीवन पर्यन्त क्रोध के पश्चाताप की अग्नि में शनें शनें स्वयं जलता रहता है जब तक समूचा जलकर राख नहीं हो जाता


*** डॉ पाँचाल

#Angry#angered

14 views0 comments