Explore
Untitled
 

Subscribe Form

Thanks for submitting!

 
 
 
Search

पराजित मनुष्यों द्वारा संसार को चलाना

यह संसार पराजित मनुष्यों द्वारा चलाया जा रहा है संसार में केवल १० प्रतिशत मनुष्य ही ऐसे हैं जिनकी आकांक्षाएं , इच्छाएं व् चाह पूरी होती...

कर्म व् परीक्षा

मनुष्य प्रारंभिक जीवन में शिक्षा ग्रहण करता है शिक्षा में सफलता प्राप्त करने के लिए उसे भिन्न भिन्न प्रकार की परीक्षाओं का सामना करना...

सहनशील पुरुष

सम्पूर्ण जीवन में पुरुष को न चाहते हुए भी अपने व् परिवार के पोषण के लिए कुछ कार्य करने होते हैं शाकाहारी होने के पश्चात भी उसे खून के...

मैं उनको दूंढ रहा हूँ भाग 3

स्वतंत्रता की नीव रखने वाले मातादीन वाल्मीकि को मैं दूंढ रहा हूँ 1. *पुर्वोतार भारत में स्वतंत्रता की जोत जलाने वाले मनीराम दीवान व्...

आपत्ति व् विपत्ति

दोनों शब्दों का अर्थ समान हो सकता है लेकिन कुछ भिन्न भी है | मनुष्यों के कर्मो के आधार पर भाग्य बनता है हमारे कर्मो से कभी कभी परमेश्वर...

मैं उनको दूंढ रहा हूँ भाग २

पराक्रमी बुद्धिमान बेताल पचीसी सिंहासन बतीसी इंद्र देवता के दरबार में न्याय करने वाले विक्रम संवत की शुरुआत करने वाले चक्रवर्ती सम्राट ...

मैं उनको दूंढ रहा हूँ

भारत माता वंदन की धरती है अभिनन्दन की धरती हैं ये अर्पण की भूमि है तर्पण की भूमि हैं हर नदी यहाँ गंगा है कण कण शंकर हैं हम जियेंगे और...

लाडला व् दुलारे

बचपन में माता पिता के बहुत लाडले थे सभी के दुलारे थे यौवन की चौखट पर बहुतों के प्यारे थे विवाह के बाद अपने परिवार के राजा थे जीवन की इस...

LOVE OR SEX

There is an attraction in the body of a woman, a man becomes eager to see her body only and keeps on wanting to get it. The woman does...

प्रेम या वासना

स्त्री के शरीर में आकर्षण होता है पुरुष केवल शरीर देखकर लालायित हो जाता है उसको पाने की इच्छा करता रहता है | स्त्री को पुरुष के शरीर से...

व्यक्ति, समय व् आयु के अनुरूप प्रेम में परिवर्तन

प्रेम व्यक्ति, समय व् आयु के अनुरूप परिवर्तित होता रहता है बचपन में सभी से प्रेम मिलता रहता है बचपन के बाद प्रेम करने वालों में कुछ कमी...

Love by a man not always sex

If a man wants to take a woman in his arms, it cannot mean mere lust. Sometimes it means that he wants to touch the woman till her soul....

प्रेम, वासना या सम्भोग

यदि पुरुष स्त्री को अपनी बांहों में लेना चाहता है तो उसका तात्पर्य केवल वासना मात्र नहीं हो सकता है कई बार इसका अर्थ होता है वह स्त्री...

ध्यान केन्द्रित करना

मनुष्य को अपनी शक्ति, क्षमता व् योग्यता पर ध्यान केन्द्रित करना चाहिए न कि अपने अयोग्य होने पर, अपने चरित्र पर ध्यान केन्द्रित करना...

लक्ष्य के बिना सपने अधूरे रहते हैं

लक्ष्य के बिना सपने सिर्फ सपने ही रहते हैं वे सपने केवल और केवल सड़क पर निराशा को हवा देते हैं यदि खुले नेत्रों के सपनों को पूर्ण करना...

स्वयं से प्रेम कार्य से प्रेम या संस्था से प्रेम

मनुष्य के जीवन में प्रेम अति आवश्यक है सभी से प्रेम किया जाता है परमेश्वर से प्रेम करोगे तो आत्मा का परमात्मा से मिलन होगा | परिवार के...

सत्य को धारण करना सरल व् कठिन है

मानव जाति में सभी को पता है कि जीवन में सत्य धारण करना सरल व सहज है सत्य धारण करने से मनुष्य में आत्मिक विश्वास प्राप्त होता है सभी...

कुछ पाने के लिए कुछ खोना पड़ता है

एक बुद्धिमान कर्मठ मनुष्य अपने उज्जवल भविष्य के लिए मन मष्तिष्क में एक लक्ष्य का निर्धारण करता है लक्ष्य के प्रति उसकी निष्ठां लग्न व्...

पानी पर चलना चमत्कार

कहते हैं कि पानी पर चलना सरल नहीं होता अपितु एक चमत्कार की तरह होता है लेकिन मेरे अनुभव के अनुसार इस धरा पर किसी को बिना क्षति पहुंचाए...

मन पर नियंत्रण असम्भव है

मनुष्य प्रकृति की अनमोल कृति है | मनुष्य के शरीर में प्रत्येक पल निरंतर रक्त प्रवाह होता रहता है इसके अतिरिक्त कुछ ऐसा भी है जिस पर...